बाबुल सुप्रियो बरल की जीवनी और राजनीतिक सफर के बारे में जानें

0
347
बाबुल सुप्रियो जीवनी
बाबुल सुप्रियो बरल की जीवनी

बाबुल सुप्रियो बरल की जीवनी – बाबुल सुप्रियो का जन्म 15 दिसंबर 1970 को पश्चिम बंगाल के उत्तरपारा में हुआ था। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा डॉन बोस्को लिलाह से पूरी की। उच्च शिक्षा की पढ़ाई बाबुल सुप्रियो ने कलकत्ता विश्वविद्यालय से पूरी की और वाणिज्य में स्नातक की डिग्री ली। इसके बाद बाबुल सुप्रियो मनोरंजन जगत में आ गए।

बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में बाबुल सुप्रियो ने अपना सफल करियर बनाया और उसके बाद भाजपा के उम्मीदवार के रूप में 2014 में राजनीति में कदम रखा। यहां से बाबुल सुप्रियो बाबुल सुप्रियो का राजनीतिक जीवन की शुरुआत हुई। 2014 में उन्होंने लोकसभा चुनाव जीता और बीजेपी सरकार में मंत्री बने।

बाबुल सुप्रियो का पूरा नाम बाबुल सुप्रियो बरल है। उनका मुख्य पेशा गायन है। इसके साथ वे एक संगीतकार, फिल्म कलाकार और राजनेता भी हैं। बाबुल सुप्रियो के पिता का नाम श्री सुनील चंद्र बरल और माता का नाम श्रीमती सुमित्रा बरल है। बाबुल सुप्रियो की पत्नी का नाम रचना शर्मा है। बाबुल सुप्रियो की दो पुत्री भी है।

बाबुल सुप्रियो बरल की जीवनी और राजनीतिक सफर

  • मई 2014 में बीजेपी की टिकट पर चुनाव लड़े और जीते
  • 1 सितंबर 2014 से 9 नवंबर 2014 तक परिवहन, पर्यटन और संस्कृतु समिति के सदस्य रहे।
  • 9 नवंबर 2014 से 12 जुलाई 2016 तक केंद्रीय राज्य मंत्री, शहरी विकास मंत्रालय, और आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय
  • 12 जुलाई 2016 से 2021 तक केंद्रीय राज्य मंत्री, भारी उद्योग और सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय में रहे।

फिल्मी जगत में आने से पहले ही बाबुल सुप्रियो ने अपना बदल लिया था। उन्होंने अपने नाम से पिता का सरनेम बरल को हटा दिया। 1992 में मुंबई आने के बाद उन्होंने कल्याणजी ने पहला ब्रेक दिया। बाबुल सुप्रियो ने गायिका आशा भोंसले और अभिनेता अमिताभ बच्चन के साथ अमेरिका और कनाडा में लाइव शो भी किया।

बाबुल सुप्रियो की शुद्ध संपत्ति 6.05 करोड़ है। Total Income की बात की जाए तो सम्पत्ति 7.53 करोड़ और उत्तरदायित्व के रूप में 1.47 करोड़ है।