आंखों की रोशनी कम होने का कारण है यह विटामिन, तुरंत खाना शुरु कर दें यह चीज

Vitamin A Deficiency: विटामिन ए हमारे शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक है। आंखों की रोशनी कम होने के साथ-साथ अन्य प्रकार की बीमारियां भी विटामिन ए की कमी से होती है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, विटामिन ए की कमी यदि शरीर में हो जाए तो इससे हमें कई प्रकार की शारीरिक समस्याओं से जूझना पड़ता है।

0
168
आंखों की रोशनी कैसे बढ़ाएं
आंखों की रोशनी कैसे बढ़ाएं

Vitamin A Deficiency: विटामिन ए हमारे शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक है। आंखों की रोशनी कम होने के साथ-साथ अन्य प्रकार की बीमारियां भी विटामिन ए की कमी से होती है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, विटामिन ए की कमी यदि शरीर में हो जाए तो इससे हमें कई प्रकार की शारीरिक समस्याओं से जूझना पड़ता है। विटामिन ए कोशिका वृद्धि, शरीर की इम्यूनिटी, स्वच्छ त्वचा, नाखूनों और सुंदर बाल के लिए आवश्यक होता है। कई ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो विटामिन से भरपूर होते हैं। इनका सेवन करके विटामिन ए की कमी को दूर किया जा सकता है।

विटामिन ए की कमी के लक्षण

आंखों की रोशनी कम होना- विटामिन ए की कमी से आंखों की रोशनी कम हो जाती है। इससे कई बार काम करते-करते अचानक धुंधला दिखने लगता है।

त्वचा का रूखा हो जाना- विटामिन ए की कमी से हमारी त्वचा शुष्क हो जाती है। इससे त्वचा बेजान नजर आती है और रूखेपन का शिकार हो जाती है।

थकावट महसूस होना- विटामिन ए की कमी से शरीर में थकावट महसूस होने लगता है। कोई भी काम करने में मन नहीं लगता है।

होंठ का फटना- विटामिन ए की सही मात्रा शरीर में नहीं होने से होंठ फटने लगता है। होठों के ऊपर नीचे सूखापन आ जाता है।

घाव भरने की क्षमता में कमी होना- विटामिन ए कम होने से घाव भरने की क्षमता पर असर पड़ता है। कहीं घाव होने पर वह जल्दी ठीक नहीं होता है।

बच्चे का शारीरिक विकास नहीं होना- विटामिन ए की पर्याप्त मात्रा शरीर में नहीं होने से बच्चे का शारीरिक विकास रूक जाता है।

श्वास नली में संक्रमण होना- Vitamin A की Deficiency होने पर श्वास नली के ऊपरी और निचले हिस्से में संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें- पालक के फायदे (Spinach Benefits) – खून की कमी और ब्लड प्रेशर में लाभदायक

विटामिन ए की कमी के कारण

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, जिन लोगों के लिवर कमजोर होते हैं या फिर लिवर की कोई बीमारी होती है, उनके शरीर में विटामिन ए की कमी हो जाती है। इससे टीबी की समस्या, यूरिन इन्फेक्शन, निमोनिया, कैंसर और किडनी का संक्रमण होने का खतरा होता है। व्यक्ति को बार-बार पेशाब आने लगता है। इसलिए शरीर में विटामिन ए की कमी को दूर करने के लिए सबसे पहले वैसा भोजन करना चाहिए जिसमें विटामिन ई की मात्रा पर्याप्त हो। इसके लिए गाजर, कद्दू की सब्जी और अंडे इत्यादि का सेवन किया जा सकता है। इन सभी में विटामिन ए पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है।

किन-किन खाद्य पदार्थ में होता है विटामिन ए

  • पीली और नारंगी सब्जियों में विटामिन ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है।
  • सोयाबीन विटामिन ए का एक मुख्य स्रोत है। इसे खाने से विटामिन ए की कमी दूर होती है।
  • अंडे, पालक में विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है।
  • दूध, गाजर, पपीता खाने से भी विटामिन ए की पूर्ति होती है।
  • दही और फोर्टीफाइड अनाज खाने से विटामिन ए की मात्रा शरीर में बनी रहती है।

यह भी पढ़ें- अंगूर खाने के फायदे – माइग्रेन और रक्तचाप में होता है लाभदायक

अस्वीकरण- यह जानकारी पाठकों की जिज्ञासा को ध्यान में रख कर दी गई है। यह किसी भी प्रकार से एक चिकित्सा का विकल्प नहीं हो सकता। किसी भी उपाय को आजमाने से पहले डॉक्टर से संपर्क अवश्य करें। हमारा उद्देश्य सिर्फ जानकारी देना है।