महिलाओं में किडनी स्टोन (Kidney Stone) के लक्षण क्या होते हैं? क्या है इलाज

0
299
किडनी स्टोन के लक्षण
महिलाओं में किडनी स्टोन के लक्षण

गुर्दे की पथरी जिसे किडनी स्टोन (Kidney Stone) के नाम भी जाना जाता है। किडनी स्टोन या गुर्दे की पथरी (Kidney Stone) एक गंभीर समस्या है। किडनी स्टोन के लक्षण (Kidney Stone Symptoms) में पेट के निचले हिस्से में बहुत तेज दर्द होना भी आम कारण है।

आमतौर पर किडनी स्टोन (Kidney Stone) दवाइयों की सहायता से यूरीन के जरिए बाहर निकल जाती है। लेकिन गॉल ब्लैडर यानी पित्त की पथरी को ऑपरेशन के जरिए ही शरीर से बाहर निकाली जाती है। शरीर में पथरी की समस्या किडनी या गॉल ब्लैडर दोनों में किसी भी जगह पर हो सकती है।

महिलाओं में किडनी स्टोन के लक्षण – (Kidney Stone Symptoms)

  • बार-बार पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द होना
  • पेशाब करते समय जलन महसूस होना
  • तुरंत बाथरुम जाने की जरूरत महसूस होना
  • पेशाब के साथ खून का बहना
  • मतली और उल्टी जैसे महसूस होना
  • बुखार और ठंड लगना
  • कुछ भी खाने में परेशानी होना

किडनी स्टोन के कारण

  1. गलत खानपान के कारण स्टोन हो सकता है।
  2. शरीर में पानी की कमी के कारण स्टोन हो सकता है।
  3. ज्यादा मोटापा भी किडनी स्टोन की समस्या का कारण हो सकता है।
  4. पाचन क्रिया की समस्या पैदा होना भी एक कारण है।
  5. बार-बार पेट में गैस बनना और तेज दर्द होना।
  6. आंतों में किसी प्रकार की समस्या होना।

किडनी स्टोन का घरेलू इलाज – (Kidney Stone Treatment)

ज्यादा से ज्यादा पानी लें

महिलाओं में ज्यादा पथरी की समस्या पाई जाती है। ऐसे में उन्हें ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की आदत डालनी चाहिए। ज्यादा पानी पीने से पेट हमेशा साफ रहता है और शरीर में कभी पानी की कमी नहीं होती है। इससे हमारा किडनी शरीर से विषाक्त पदार्थ को आसानी से पेशाब के जरिए बाहर निकाल देता है।

नींबू का रस लें

किडनी स्टोन होने की समस्या से निपटने में नींबू का रस काफी फायदेमंद होता है। गुर्दे की पथरी को नींबू का रस तोड़कर बाहर निकालने में मदद करता है। नींबू में साइट्रेट होता है जो कैल्शियम की पथरी बनने से रोकता है। साइट्रेट एसिड छोटे पत्थरों को तोड़ देता है। जिससे वह पेशाब के साथ बाहर आ जाते हैं।

तुलसी का रस लें

तुलसी का सेवन कई स्वास्थ्य समस्याओं में फायदेमंद होता है। गुर्दे की पथरी के इलाज में भी तुलसी का सेवन काफी फायदा करता है। तुलसी में एसिटिक एसिड पाया जाता है जो गुर्दे की पथरी को तोड़ने में मदद करता है।

सेब का सिरका लें

सेब का सिरका भी पथरी की समस्या में लाभ पहुंचाता है। सेब में एसिटिक एसिड मौजूद होता है जो पथरी को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ देता है। सेब का सिरका पथरी के दर्द को भी कम करने में मदद करता है।

नोट- यह एक सामान्य जानकारी है। गुर्दे में पथरी की समस्या होने पर तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करें। समय रहते उचित इलाज ही इसका बेहतर समाधान है। अन्य जानकारियों के लिए होमपेज पर जाएं