नाक पर सिंदूर गिरना शुभ होता है या अशुभ, जानें क्या होता है मतलब?

0
1617
नाक पर सिंदूर गिरना
नाक पर सिंदूर गिरना

हिंदू धर्म में सिंदूर को विवाहित महिलाओं के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है। नाक पर सिंदूर गिरना शुभ होता है या अशुभ इसके बारे में जानते हैं। सिंदूर को महिलाओं के श्रृंगार का महत्वपूर्ण अंग माना जाता है। हिंदू धर्म में सिंदूर को श्रृंगार की वस्तु के साथ-साथ धार्मिक नजरिए से भी जोड़कर देखा जाता है। महिलाएं शादी के बाद अपनी मांग में सिंदूर भरती हैं तो यह उसके सुहागन होने की निशानी होती है। इसे पति की उम्र से भी जोड़कर देखा जाता है।

धार्मिक मान्यता है कि सिंदूर का गिरना अशुभ संकेत होता है। हालांकि यह इस बात पर निर्भर करता है कि किन किन स्थितियों में सिंदूर गिरा है। कई बार स्त्रियों के कुछ खास अंगों पर सिंदूर का गिरना शुभ माना जाता है।

नाक पर सिंदूर गिरना

यदि किसी स्त्री द्वारा मांग भरते समय यदि सिंदूर गिरकर नागपुरिया माथे पर फैल जाए तो यह एक शुभ संकेत होता है। ऐसे में यदि आप के नाक पर या माथे पर सिंदूर गिर कर फैल जाए, तो इसे पोछना नहीं चाहिए। यदि आप ही पोछ लेते हैं तो यह शुभ माना जाता है। नाक पर सिंदूर गिरना इस बात का संकेत होता है कि आपका जीवनसाथी आपको बहुत प्यार करने वाला है। आपके जीवन में और दांपत्य जीवन में खुशियां और प्रेम बनी रहेगी। आपके दांपत्य जीवन में प्रेम में बढ़ोतरी होगी। पति पत्नी के बीच प्यार में बढ़ोतरी होगी। दोनों एक दूसरे का बहुत सम्मान करेंगे और एक दूसरे का बहुत ही ख्याल रखेंगे।

यह भी पढ़ें- सरसों तेल का दीया जलाने के लाभ – घर में सरसों तेल का दीया क्यों नहीं जलाना चाहिए?

यह भी पढ़ें- घर में देवताओं का वास होता है इस दिशा में, सुख समृद्धि के लिए करें यह काम

यह भी पढ़ें- Deepak Mein Phool: दीये में फूल बनकर गायब होने का क्या संकेत होता है?

सिंदूर का जमीन पर गिरना

कई बार ऐसा होता है कि सिंदूर लगाते समय गिरकर जमीन पर फैल जाता है। ऐसे में स्त्रियों के मन में कई प्रकार के अपशकुन आने लगते हैं। स्त्रियां किसी अनहोनी होने की आशंका से ग्रसित हो जाती है। धार्मिक नजरिए से देखी तो यदि आपके हाथ से सिंदूर दानी छूट जाती है या फिर सिंदूर हाथ से गिरकर जमीन पर बिखर जाती है, तो यह एक अशुभ संकेत होता है। यह संकेत होता है कि आपके पति पर कोई संकट आने वाला है। वहीं यदि सिंदूर लगाते वक्त सिंदूर का कुछ अंश जमीन पर गिर जाए तो यह अशुभ फल नहीं देते हैं।

पूजा के दौरान सिंदूर गिरना

कई बार ऐसा होता है कि पूजा के दौरान कुछ चीजें हाथ से छूटकर गिर जाती है। पूजा के दौरान यदि आपके हाथ से छूटकर सिंदूर गिर जाता है तो यह संकेत होता है कि जल्द ही आपको कोई अशुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। ऐसी स्थिति में पति पत्नी के बीज मनमुटाव और झगड़े हो सकते हैं। दोनों के बीच दूरियां बढ़ सकती है।

पैरों पर सिंदूर गिरना

सिंदूर लगाते वक्त अनजाने में यदि आपके पैरों पर सिंदूर का कुछ अंश गिर जाता है तो यह इस बात का संकेत होता है कि आप अपने जीवन साथी के साथ जल्द ही किसी लंबी यात्रा पर जाने वाले हैं। यह यात्रा आपके लिए सुखद भी हो सकती है और दुखद भी।

यह भी पढ़ें- रात में नाखून काटना क्यों होता है अशुभ? जानिए क्या है असली वजह

यह भी पढ़ें- ऐसे 5 खास लोगों के दीपक में फूल बनता है, ईश्वर देते हैं खास संकेत

यह भी पढ़ें- दीपक में फूल बनने के 5 रहस्य, जानें क्यों बनता है दीपक में फूल

कुंवारी कन्या पर सिंदूर गिरना

यदि किसी कुंवारी कन्या पर सिंदूर गिरता है तो यह शुभ माना जाता है। शादी योग्य किसी लड़की के ऊपर सिंदूर गिरता है तो ऐसा होने से उस कन्या का विवाह जल्द ही हो जाता है। इसलिए कुंवारी कन्या के ऊपर सिंदूर का गिरना शुभ माना जाता है। यदि आपके ऊपर भी सिंदूर गिरा है और आप कुंवारी हैं तो आप खुश हो जाएं क्या आपकी शादी जल्दी हो जाएगी।

सिंदूर लगाते वक्त किन बातों का रखें ध्यान

1. कभी भी शाम के समय सिंदूर ना लगाएं। शाम के समय मांग भरना अशुभ माना जाता है। सिंदूर लगाना हो तो सुबह के वक्त में ही लगा लें।

2. सिंदूर जमीन पर गिर जाए तो उसे बरगद के पेड़ के पास रख दें। गिरा हुआ सिंदूर से कभी भी अपनी मांग ना भरें। यह अशुभ होता है।

3. सुहागन महिलाओं को माथे पर सिंदूर से तिलक लगाने के साथ-साथ मांग भी भरनी चाहिए।

4. अपनी मांग हमेशा अपने सिंदूर से ही भरें। कभी भी अपनी सिंदूर हो किसी और के साथ शेयर ना करें।