दीपक जलाने का मंत्र दीपक जलाते समय उच्चारण करने से क्या होता है?

0
1196
दीपक जलाने का मंत्र
दीपक जलाने का मंत्र

दीपक जलाने का मंत्र काफी उपयोगी होता है। शाम के समय दीपक जलाते समय इस मंत्र को बोलने से विशेष लाभ होता है। दीपक हर घर में जलाया जाता है। सुबह-शाम घर में दीपक जलाने से घर की नकारात्मक शक्तियां धीरे-धीरे घर से चली जाती है। कहते हैं कि दीपक जलाने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है। दीपक जलाने से जीवन में अंधकार खत्म होता है। दीपक की लौ हमेशा उन्नति और प्रगति की प्रतीक माना जाता है।

जिस घर में सुबह-शाम दीपक जलाया जाता है वहां पर नकारात्मकता, दरिद्रता, रोग, कष्ट, पाप आदि सभी चीजों का नाश हो जाता है। हिंदू धर्म में बिना दीपक जलाए किसी भी शुभ कार्य को नहीं किया जाता है। इसके अलावा किसी भी मांगलिक कार्य के लिए एक विशेष प्रकार का मंत्र भी है। पूजा करने के दौरान मंत्रों का उच्चारण करने से व्यक्ति का कल्याण होता है और जीवन में लाभ मिलता है।

इसी तरह दीपक जलाते समय भी यदि मंत्रों का जाप किया जाए तो उसका विशेष लाभ मिलता है। शाम के समय घर में दीपक जलाते समय मंत्र का उच्चारण करना चाहिए। ऐसा करने से व्यक्ति को विशेष लाभ मिलता है और जीवन में हमेशा सुख-शांति बनी रहती है।

दीपक जलाने का मंत्र

शुभं करोति कल्याणम् आरोग्यम् धनसंपदा।
शत्रुबुद्धिविनाशाय दीपकाय नमोस्तुते।।
दीपो ज्योति परंब्रह्म दीपो ज्योतिर्जनार्दन:।
दीपो हरतु मे पापं संध्यादीप नमोस्तुते।।

कहा जाता है कि दीपक जलाते समय इस मंत्र का जाप करने से कई प्रकार के विशेष लाभ मिलते हैं। इस मंत्र का मूल अर्थ है कि हमने जो दीपक जलाया है, उससे हमारा शुभ हो, कल्याण हो, आरोग्य मिले, रोगों का नाश हो। दीपक जलाने से धन-संपदा में वृद्धि हो, हमारे जो शत्रु हैं उनकी बुद्धि का अंत हो और उन्हें सद्बुद्धि मिले। परंब्रह्म स्वरूप यह दीपक व्यक्ति के पापों का नाश करता है।